एंटी करप्शन टीम ने गुन्नौर में रिश्वत लेते दरोगा को किया गिरफ्तार

0
201
थाना इस्लामनगर के दरोगा

एंटी करप्शन टीम ने गुन्नौर में रिश्वत लेते दरोगा को गिरफ्तार किया है। आरोपी दरोगा एक मामले में एफआर लगाने के नाम पर रिश्वत ले रहा था। जबकि दरोगा का पहले ही ट्रांसफर हो चुका है।
यहां बता दें कि यूपी के जनपद संभल की तहसील गुन्नौर के थाना जुनावई का मामला है। एंटीकरप्शन टीम ने एक दरोगा को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। जबकि दरोगा का पहले ही ट्रांसफर थाना जुनावई से थाना बनियाठेर हो चुका था। थाना जुनावई के गांव डडूमरा निवासी सत्यप्रकाश का उसके ही गांव के देवेन्द्र आदि से झगडा हो गया था। इस मामले में घर में घुसकर मारपीट करने का आरोप लगा था। जिसमें मुकदमा भी दर्ज हुआ था। इस मामले की विवेचना दरोगा धर्मेंद्र तोमर कर रहा था। दरोगा ने धाराए हटाने के नाम पर सत्य प्रकाश से रिश्वत की डिमांड की थी।

READ MORE==बरेली से नाराज होकर निकली युवती से रेप का प्रयास, असफल होने पर हत्या, आरोपी हैं मानव तस्कर

इसके बाद दरोगा व सत्यप्रकाश में पांच हजार रू लेने की बात भी तय हो गई थी। इसके बाद सत्य प्रकाश ने एंटीकरप्शन टीम मुरादाबाद से इसकी शिकायत की थी। एंटी करप्शन टीम ने जिलाधिकारी से इस मामले की अनुमति ली। डीएम की अनुमति के बाद टीम सत्य प्रकाश के साथ दरोगा धर्मेंद्र तोमर के पास पहुंचे। सत्य प्रकाश ने दरोगा धर्मेंद्र तोमर को पांच हजार रू दे दिए। इसके तुरंत बाद दरोगा को एंटी करप्शन टीम ने गुन्नौर में लिया। दरोगा के हाथ धुलवाए गए। हाथ धोते ही रंगीन हो गए। टीम दरोगा तोमर को पकडकर गुन्नौर कोतवाली ले गई। जहां उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इस एंटीकरप्शन टीम में प्रभारी निरीक्षक विजय सिंह, निरीक्षक राखी चैधरी, नवल मारवाह, निरीक्षक रश्मि, उपनिरीक्षक विजय कुमार कांस्टेबिल टिंकू कुमार व सतीश कश्यप मौजूद रहे। इस बारे में प्रभारी निरीक्षक विजय सिंह ने बताया कि जुनावई थाने में दर्ज मुकदमे में दरोगा धर्मेंद्र तोमर ने धारा हटाने के नाम पर रिश्वत मांग रहा था। जिसे रंगे हाथ पकड लिया है रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है।

READ MORE==बेदर्द बहुओं ने बूढी सास को पटक पटक कर डण्डों से पीटा, वीडियो वायरल

(Visited 427 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here