लाठी लेकर घूमते संघमित्रा का वीडियो वायरल, बदायूं भाजपा की शीर्ष नेतृत्व के सामने खोलेंगी पोल

0
939

सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य पर हमले के बाद भाजपा सांसद सघमित्रा मौर्य लाठी लेकर बाजार में घूम रही थीं। इसका वीडियो बन गया यह वीडियो कुछ ही समय में वायरल भी हो गया। इस वीडियो में स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा मौर्य के हाथ में लाठी हैं। वह भाजपा कार्यकर्ताओं पर बरसती दिखाई दे रही हैं। इसके कुछ समय बाद संघमित्रा फेसबुक पर लाईव आईं, और उन्होंने अपने पिता पर हुए हमले की जानकारी लोगांें को दी।
यहां बता दंे कि सोमवार को रोडशो के दौरान सपा व भाजपा कार्यकर्ता आमने सामने आ गए थे और दोनो पक्षों मारपीट व पत्थरबाजी हुई थी। इस घटना में दर्जनों गाडियां क्षतिग्रस्त हो गईं थीं। इसके बाद दोनों पक्षों की ओर से सांसद संघमित्रा उनके भाई अशोक मौर्य समेत 30 सपा कार्यकर्ताओं को नामजद करते हुए सैकडों कार्यकर्ताआंे के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
इस मामले मंे संासंद ने कहा कि बात लोकतं से खिलवाड की हैं। आज मैं कहती हंू। आज खुल के कहती हूं, आज तक सारे फर्ज निभाए, एक बेटी, तो एक कार्यकर्ता की भी। आज खुलकर कहती हूं और निवेदन करती हूं कि दया दृष्टि वाली सांसद नहीं हूं। मैं बदायूं के लोगों के आशीर्वाद रूपी वोट से चुनी गई हूं। न पार्टी छोडूगी, न पद से इस्तीफा दूंगी, बल्कि कहूंगी कि राजनीति करने का मजा हमें अब आएगा। पहले पिताजी के लगाम की वजह से चुप रहती थी। अब पिताजी भाजपा मे ंहीं हैं। अब भाजपा में खुलकर राजनीति करूंगी। अब भाजपा मे ंहम राजनीति करेंगे, और शीर्ष नेतृत्व के साथ वो भी सबूत के साथ रखेंगे। जो अब तक बदायूं में खेला होता रहा है। चाहे वो 2019 के चुनाव में पार्टी के जिम्मेदार लोगों ने किया हो, या फिर किसी चुनाव में हुआ हो। चाहे 2022 के चुनाव में हुआ है,, उसका काला चिट्ठा पूरे सबूत के साथ शीर्ष नेतृत्व को दिखाया जाएगा। आवश्यक होने पर शीर्ष नेतृत्व को रिकाडिंग के साथ दिखाऊंगी, और बताऊंगी कि जो बीजेपी का हितेषी बताता है, पार्टी खुद बदनाम करता है ओर आरोप संघमित्रा मौर्य पर लगाता है। संघमित्रा ने कहा कि मैं उनको भी अपना जबाव देना चाहती हूं जो उन्हें दलबदलू कहकर बदनाम करते हैं। अब चुप नहीं रहना है खुलकर आवाज बुलंद करनी है। मैं आधी आबादी का प्रतिनिधित्व करती हूं।
यहां बता दें कि संासद संघमित्रा मौर्य के इस बयान के राजनैतिक क्षेत्र में बडे मायने लगाए जा रहे हैं। इस में लोगों का कहना है कि ऐसा क्या सबूत संघमित्रा मौर्य पर है जिसको लेकर वह शीर्ष नेतृत्व को बताना चाह रही हैं। उनके पास ऐसी घटना की वीडियो रिकार्डिंग भी है। फाजिलनगर विधान सभा की आंच अब बदायू जनपद में भी पहुंचने की संभावना दिखाई दे रही हैं।

(Visited 422 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here