बिसौली नगर पालिका में हैट्रिक लगाऐंगे अबरार अहमद या फिर ?

0
258
नगरपालिका बिसौली

बिसौली नगर पालिका में हैट्रिक लगाऐंगे अबरार अहमद या फिर विपक्ष का कोई उम्मीदवार इस बार बाजी मारेगा। कयास लगाए जा रहे हैं कि चुनाव की वर्तमान परिस्थिति निवर्तमान चेयरमेन के पक्ष में दिखाई दे रही हैं जबकि विपक्ष के उम्मीदवार इस बार चेयरमेन की कुर्सी तक पहुंचने के लिए ऐडी चोटी का जोर लगा रहे हैं।
भले ही पूरे प्रदेश व देश में भाजपा का परचम लहरा रहा है लेकिन बिसौली नगर पालिका में लम्बे समय से भाजपा सत्ता से बाहर है। लगातार दो बार से अबरार अहमद नगरपालिका परिषद बिसौली में अध्यक्ष पद पर काबिज रहे हैं। इससे पहले 2006 से 2011 तब अशोक वाष्र्णेय निर्दलीय नगर पालिका से अध्यक्ष रहे थे। लेकिन उससे पहले अशोक वाष्र्णेय की पत्नी कमलेश वाष्र्णेय भाजपा की उम्मीदवार के रूप में विजई हुई थीं इसके बाद से भाजपा बिसौली में लगातार संघर्षरत है। पिछला चुनाव भी भाजपा उम्मीदवार सरिता वाष्र्णेय ने दम खम से लडा था लेकिन भाजपा उम्मीदवार को चुनाव में 784 मतों के अंतर से हार का सामना करना पडा और अबरार अहमद चुनाव जीत गए। इस बार अबरार अहमद फिर से चुनाव मैदान में हैं जबकि भाजपा या किसी भी राजनैतिक पार्टी ने अपना कोई भी उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। भाजपा इस बार चुनाव जीतने के लिए हर हथकंडा अपनाने का प्रयास कर रही है।

READ More ==बिसौली में चार्ज होते एप्पल मोबाइल में उतरा करंट, बात करते किशोर की मौत

इस कारण से भाजपा में टिकिट के लिए भी गहरा मंथन चल रहा है। वर्तमान परिस्थितियों पर यदि गौर किया जाए तो निवर्तमान चेयरमेन अबरार अहमद अपने प्रतिद्वन्दियों से आगे दिखाई दे रहे हैं। पूंछने पर अबरार अहमद कहते हैं कि काम किया है काम करेंगे झूंठे वादे नहीं करेंगे और पहले भी नहीं किए हैं। वह कहते हैं कि नगर के विकास के लिए पुरजोर मेहनत करता हूं। जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वन्दी रहीं सरिता वाष्र्णेय का कहना है कि यदि पार्टी इस बार मौका देती है तो नगर में विकास गंगा बह जाएगी। नगर में चुनाव हारने के बाद भी मैं लगातार नगर वासियों के संपर्क में रही हूं। साथ ही नगर वासियों को मेरी सेवा से कभी कोई शिकायत भी नहीं होगी। मैंने भाजपा नेताओं व पूर्व विधायक कुशाग्र सागर की मदद से नगर में पांच सडकें डलवाने के साथ ही हाईमास्ट लाइटें लगवाईं नगर में बिजली की समस्या दूर करने के लिए नगर में 28 ट्रांसफार्मर लगवाए। इस बार जनता भाजपा उम्मीदवार को जिताने का मन बना चुकी है। इधर भाजपा से ही दूसरे दावेदार अशोक वाष्र्णेय का कहना है कि पिछले कार्यकाल के दौरान भी नगर में बिजली पानी की बेहतर व्यवस्था दी है इस बार भी बेहतर व्यवस्था ही दूंगा। पिछले कार्यकाल में नगर के बजाए व्यक्तिगत विकास हुआ है। वैसे यह तो आने वाले समय में बिसौली की जनता ही तय करेगी कि अबरार अहमद की हैट्रिक लगेगी या फिर विपक्ष को मौका मिलेगा।

Read More ==बदायूं में हेड सिपाही ने तीन साल तक किया महिला से दुष्कर्म, वीडियो भी बनाया

(Visited 1,017 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here