मंत्री स्वाती सिंह भाजपा विधायक से लेंगी तलाक

0
744

भाजपा सरकार में निवर्तमान महिला एंव बाल विकास मंत्री स्वाती ंिसह अपने पति एंव हाल ही में बलिया से विधायक बने दयाशंकर सिंह से तलाक लेंगी। इसके लिए उन्होंने परिवार न्यायालय में तलाक की अर्जी दाखिल की है।
यहां बता दें कि स्वाती सिंह और उनके पति में लम्बे समय से आपसी संबंध अच्छे नहीं हैं। इसलिए दोनों ने वर्ष 2017 में तलाक की अर्जी दाखिल की थी लेकिन वर्ष 2018 में दोनों के ही न्यायालय नहीं पहुंचने के कारण मुकदमा खारिज हो गया था। लेकिन अब दोबारा से इस वाद के रेस्टोरेशन के लिए मंत्री स्वाती ंिसह ने प्रार्थनापत्र दाखिल कर मामले को गर्मा दिया है।
घरेलू महिला से मंत्री स्वाती सिंह
स्वाति सिह एक घरेलू महिला थीं। इसी बीच अचानक ही एक घटनाक्रम के दौरान स्वाति सिंह के पति व तत्कालीन भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर एक अभद्र टिप्पणी कर दी थी। इसके बाद विवाद बढने पर भाजपा ने दयाशंकर सिंह को पार्टी से निष्काशित कर दिया था। इसके बाद तत्कालीन बसपा नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह व बेटी पर अभद्र टिप्पणी की थी। इसके जबाव में स्वाति सिंह ने खुलकर मोर्चा खोल दिया। उनके इस मोर्चे से बेकफुट पर पहुंची भाजपा को एक तरह से संजीवनी मिल गई। स्वाति ंिसह की इमेज एक तरह से फायर ब्रांड नेता की बन गई। भाजपा ने मौका देखते ही स्वाति सिंह भाजपा महिला मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया। इसके बाद भाजपा ने यूपी चुनाव 2017 से स्वाति सिंह को सरोजनी नगर लखनऊ से विधानसभा का टिकिट दिया। इसी टिकिट पर स्वाति सिंह ने अपने प्रतिद्वन्दी को बडें अंतर से हरा दिया। इसी के परिणाम स्वरूप योगी सरकार में उन्हंे मंत्री पद से नवाजा गया।
इस समय भी दयाशंकर सिंह व स्वाति सिंह के मनमुटाव की खबरें चल रही थीं। लेकिन स्वाति सिंह के मंत्री बन जाने के कारण मामला कुछ शांत हो गया। इसके बाद दोनों ही न्यायालय नहीं पहुंचे। न्यायालय से वादी व प्रतिवादी दोनों के अनुपस्थित रहने के कारण वाद खारिज हो गया।
अभी कुछ समय पहले यूपी चुनाव 2022 में पति पत्नी के मनमुटाव की खबरें खुलकर सामने आईं थीं। दोनों ही अपने लिए अलग अलग टिकिट की मांग कर रहे थे। भाजपा ने स्वाति सिंह का टिकिट काट दिया जबकि उनके पति दयाशंकर सिंह को बलिया से टिकिट दिया और वह जीतकर विधायक बन गए।
अब स्वाति सिंह ने न्यायालय में तलाक के लिए 2018 में खारिज वाद को पुर्नस्थिापित करने के लिए रेस्टोरेशन प्रार्थना पत्र दाखिल किया है।

(Visited 266 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here