खुशखबरी भारत आ गई पानी से चलने वाली कार

0
467
Water car ----- Photo Social Media

खुशखबरी आम लोगों की कल्पना के अनुरूप पानी से चलने वाली कार अपने देश में आ चुकी है। जिसका शीघ्र ही टेस्ट किया जाएगा। इसके बाद इसका बडे स्तर पर निर्माण कर आम आदमी को बेचने का काम शुरू हो जाएगा। इसी जानकारी केन्द्रीय सडक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने दी।
पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों से आम आदमी से आम आदमी अक्सर परेशान ही रहता है। चार पहिया वाहन तो दूर दो पहिया वाहन चलाना भी लगातार कठिन होता जा रहा है। जब पेट्रोल डीजल की कीमतें बढती हैं तब अचानक ही लोगों की कल्पना में आता है कि काश हमारी गाडी पानी से चलने लगे। यही कल्पना वैज्ञानिकों ने पूरी करने का प्रयास किया है। अभी बनाई गई यह कार पेट्रोल डीजल के बजाए यह पानी से ही चलेगी।
भारत सरकार लंबे समय से चाह रही थी कि वाहन चलाने के लिए पेट्रोल और डीजल का कोई विकल्प मिल जाए, ऐसे में वैज्ञानिकों ने पानी से चलने वाली कार का फॉर्मूला ढूँढ निकाला है।

Water car —– Photo Social Media

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पानी से चलने वाली इस कल्पनीय कार के बारे में बताते हुए कहा कि एक पायलट प्रोजेक्ट के तहत हरियाणा के फरीदाबाद में तेल रिसर्च इंस्टीट्यूट में पानी से ग्रीन हाइड्रोजन का उत्पादन किया जा रहा है, जिसकी मदद से इस कार को चलाया जाएगा। यह कार भारत की राजधानी दिल्ली से फरीदाबाद स्मार्ट सिटी के बीच चलाई जाएगी। जिससे उसे आम आदमी को दिखाया जा सके। इस कार में पानी के द्वारा ग्रीन हाइड्रोजन बनाई जाएगी जिससे कार चलेगी।
नितिन गडकरी ने बताया कि पानी से बनाई जाने वाली ग्रीन हाइड्रोजन का केवल छोटी छोटी कारों में ही नहीं किया जाएगा, बल्कि बडे वाहनों मंे भी इस ईंधन का प्रयोग किया जाएगा। इससे ट्रक भी चलाए जाऐंगे। यह ग्रीन हाइड्रोजन ईंधन से चलने वाले वाहनों को सीवेज के पानी और ठोस कचरे से बनाया जाएगा।
जब यह परियोजना सफल होगी तब इससे सीवेज का पानी भी आसानी से प्रयोग किया जा सकेगा। जबकि परिवहन और महंगे ईंधन सम्बंधित समस्या भी हल हो जाएगी। यहां महत्वपूर्ण बात यह है यह परियोजना 7 साल पहले शुरू हुई थी। इस परियोजना के अंतर्गत नागपुर शहर की पालिका अपने सीवेज का पानी महाराष्ट्र सरकार के बिजली संयंत्र को बेच देता है। इससे नागपुर नगर निगम मो लगभग साढे तीन सौ करोड का लाभ होता है। यदि यह परियोजना पूरे देश में लागू होती है तब प्रत्येक नगरपालिका व नगरनिगम की आय में भी लाभ शुरू हो जाएगा।

 

(Visited 184 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here