ईवीएम के स्ट्रांग रूम का ताला तोड़ने के प्रयास का आरोप

0
537
Vidhansabha chunav

लखनऊ में सपा बसपा के लोगों ने ईवीएम के स्ट्रांग रूम का ताला तोडने के प्रयास का आरोप लगाते हुए धरना प्रदर्शन किया साथ ही जमकर हंगामा भी हुआ। कई थानों की पुलिस के मौके पर पहुंचने पर मामला किसी तरह से शांत हुआ।
यहां बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के बाद लखनऊ के रमाबाई रैली मैदान का भवन स्ट्रांग रूम है। यहीं पर ईवीएम रखी हुई हैं। इस एरिया की अर्धसैनिक बलों के द्वारा सुरक्षा की जा रही है।

Photo Social Media

हुआ यूं कि सोमवार को अपर मजिस्ट्रेट लिखी एक गाड़ी इस स्ट्रांग रूम के क्षेत्र में जाने वाली थी। इसी समय वहां मौजूद सपा व बसपा कार्यकर्ताओं ने गाडी को अंदर जाने से रोक दिया। गाडी के अंदर प्लास के साथ छैनी हथौडा भी रखा हुआ था। छैनी हथौडा देखते ही सपा बसपा कार्यकर्ता आरोप लगाने लगे कि यह ईवीएम से छेड छाड का प्रयास है। हम इसे होने नहीं देंगे। इसके बाद यह लोग हंगामा करने लगे। घटना की सूचना फैलते ही कई थानों की पुलिस भी प्रशासन द्वारा बुला ली गई। इस मजिस्ट्रेट लिखी गाडी व उसमें बैठे हुए व्यक्ति को पुलिस के द्वारा अपने कब्जे में ले लिया तब हंगामा करने वाले कुछ शांत हुए। इसके बाद सपा व बसपा नेताओं के द्वारा जिलाधिकारी लखनऊ को भी पूरे मामले से अवगत कराया गया।
इस घटना ने पूरे लखनऊ में ही मामले को गरम कर दिया। सपा व बसपा नेता इसे ईवीएम के साथ छेडछाड का प्रयास मान रहे हैं। जबकि भाजपा नेता कुछ भी नहीं कह रहे है। एक बुद्धिजीवी ने नाम ना छापने की शर्त व दबी जुवान से कहा कि अगर प्रशासन की मदद से सरकार को ईवीएम बदलवानी ही होगी तब हथोडे से ताला तोडने की क्या जरूरत पडेगी। स्ट्रांग रूम की चावी भी प्रशासन के पास ही होती है। इधर बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने चुनाव आयोग को ट्वीट किया हैं उन्होंने कहा है कि सरकार लोकतंत्र की हत्या का प्रयास कर रही है। यह अत्यंत ही दुर्भागयपूर्ण व दुखद है। उनका कहना है कि चुनाव आयोग इस मामले में शीघ्र संज्ञान ले व कारवाई करे।

 

(Visited 126 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here