पूर्व थानाध्यक्ष बजीरगंज पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज, सस्पेंड

0
285
थाना इस्लामनगर के दरोगा

बजीरगंज के पूर्व थानाध्यक्ष पर बलात्कार का मुकदमा दर्ज होने के बाद उन्हें बदायूं एसएसपी ने निलंबित कर दिया है। अब उन पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।
यहां बता दें कि मामला यूपी के जनपद मुरादाबाद से जुडा हुआ है। मुरादाबाद के थाना सिविल लाइंस की एक कालानी की रहने वाली दो युवतियों ने आरोप लगाया कि उनकी बदायूं में तैनात पूर्व थानाध्यक्ष बजीरगंज इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह से जानपहचान थी। दर्ज रिपोर्ट के अनुसार 25 अगस्त को प्रकाश सिंह उनके कमरे पर आया व उसने लडकियों से कहा कि एक घंटे आराम करने के बाद वह चला जाएगा। लडकियों ने उसे आराम करने की अनुमति दे दी। इंस्पेक्टर अपने साथ ही कोल्ड ड्रिंक व बना बनाया मीट भी लाया था।

READ MORE ==जेई लाइनमेन विवाद में बिजली आपूर्ति बाधित

पूर्व थानाध्यक्ष बजीरगंज ने दोनों युवतियों को कोल्ड ड्रिंक पीने को दी इसके बाद दोनों युवतियां बेहोश हो गईं। युवती का आरोप है कि इसी बेहोशी की अवस्था में प्रकाश सिंह ने एक युवती के साथ दुष्कर्म किया। जब युवतियों को होश आया तब उन्होंने एसएसपी मुरादाबाद को शिकायत दी। एसएसपी मुरादाबाद ने मामले की जांच सीओ सिविल लाइंस को सौंपी। जांच के बाद सीओ सिविल लाइंस ने मेडीकल भी कराया है। सिविल लाइंस थानाप्रभारी गजेंद्र सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है, मामले की विवेचना की जा रही है। इधर सूचना मिलने के बाद एसएसपी बदायूं ने इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह को निलंबित कर दिया है। इंस्पेक्टर प्रकाश सिंह का कार्यशैली अक्सर विवादों में रहती है। बजीरगंज थाने में तैनाती के दौरान ही पेंपल में इतना बडा कांड होने का दोष प्रकाश सिंह पर ही आता है। यदि अपहरण के मामले को गंभीरता से लिया होता तब ना तो पुलिस का अपमान होता और ना ही कई निदोषों को जेल जाना पडता। बजीरगंज से पहले उसांवा थाने में भी प्रकाश सिंह ने ऐसा ही बवाल कराया था। बजीरगंज में ज्वाइन करते ही बिसौली के एक लूट के मामले में भी इंस्पेक्टर पर कई लाख की रकम लेन देन का भी आरोप लगा था। इंस्पेक्टर के खिलाफ विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है।

READ MORE ==अजीव लव स्टोरी: फेसबुक पर प्यार, कोतवाली में निकाह

(Visited 938 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here