ओमवती ने अपनी साडी उतारी और बचा ली सैकडों की जान, पढें पूरा मामला

0
871
Rail accident etah

पटरी टूटी देख मजबूरी में एक बुजुर्ग महिला ने अपनी लाल साडी उतार कर रेलवे ट्रेक पर टांग दी जिससे बडा रेल हादसा होने से बाल बाल बच गया। महिला को रेलवे चालक ने 100रू. का इनाम दिया।
मामला ऐटा से आगरा जाने वाले रेलवे ट्रेक का है। जहां थाना जलेसर के गांव नगला गुलरिया में गुरूवार सुबह महिला ओमवती अपने खेत पर काम करने गई हुई थी। खेत पर जाते समय अचानक ही ओमवती की नजर टूटी हुई रे पटरी पर गई। ओमवती को लगा कि अगर ट्रेन आ गई तब बडा हादसा हो सकता है। इसी समय अचानक ही ट्रेन की आवाज आने लगी परेशान हाल ओमवती ने अपनी पहनी हुई लाल साडी ही उतार दी और रेलवे ट्रैक पर टांग दी। ट्रेन चालक ने लाल साडी को लाल झंडी के रूप में देखा और ट्रेन रोक दी।etah train hadsa ट्रेन रूकते ही ओमवती की जान मे जान आई। चालक ने देखा कि वहां एक महिला भी खडी है और इशारा कर रही है महिला ओमवती के पास जाकर चालक तारासिंह ने देखा कि पटरी टूटी हुई है। तब तक आसपास के खेतों में काम करने वाले काफी लोग भी इकट्ठा हो गए थे। चालक ने रेलवे के ट्रेन ठीक करने वाले स्टाफ को सूचित किया। इसके बाद ट्रेक ठीक किया गया। महिला की इस सूझ बूझ से सैकडों यात्रियों की जान बच गई। ट्रेक ठीक होने के बाद जब चालक तारा सिंह ट्रेन लेकर जाने लगा तब उसने बुजुर्ग महिला ओमवती को 100 रू. प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए।
यहां सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस ट्रेन से पहले दो ट्रेनें निकल चुकी थीं। तो क्या टूटे ट्रेक से ही यह दोनों ट्रेनें निकली थीं। अगर ऐसा था तब तो बडा हादसा टल गया। इस बारे में रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि इस समय इस ट्रेक की मरम्मत का कार्य चल रहा है, हो सकता है कि भूलवश कोई कार्य छूट गया हो। हमारे रेलवे के कीमेन ने भी इसे देख लिया था और उसी की सूचना पर ट्रेन को रोका गया था। जबकि चालक तारा सिंह ने बताया कि उसने ट्रेक पर लाल साडी टंगी देखी थी। वहां लोग भी थे मैंने महिला को 100रू. का पुरस्कार दिया था।

(Visited 435 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here