बिसौली में लेखपाल ने अवैध कब्जा हटाने को कहा तो युवक ने किया आत्मदाह का प्रसास

0
164
बिसौली में लेखपाल ने

बिसौली में लेखपाल ने अवैध कब्जा हटाने को कहा तो युवक ने अपने ऊपर डीजल छिडक कर आत्मदाह का प्रयास किया। तहसील प्रशासन ने आरोपी को पकडकर बचा लिया। एसडीएम ने आरोपी से आगे ऐसा प्रयास नहीं करने के आश्वासन पर छोड दिया।
पूरा मामला यूपी के जनपद बदायूं की तहसील बिसौली का है। यहां के गांव दबथरा के रहने वाले दिनेश पुत्र लालमन की ग्राम आसफपुर फकावली में कृषि भूमि है। आरोप है कि इस कृषि भूमि के चकरोड पर दिनेश ने कब्जा कर लिया है। इसकी शिकायत गांव दबथरा के ग्राम प्रधान बलराम यादव ने आईजीआरएस पर की थी। इसी शिकायत पर लेखपाल ने गुरूवार को मौके पर पहुंचकर चकरोड की नाप की। इस चकरोड पर पेड भी लगे हुए थे। दिनेश के ट्यूबवेल की कुंडी भी इसी चकरोड पर बनी हुई है। लेखपाल ने कहा कि इस चकरोड से अपना अतिक्रमण हटा लीजिए अन्यथा आपके खिलाफ कारवाई हो जाएगी।

READ MORE ==हाथरस कांड में नहीं मिले रेप के सबूत, तीन आरोपी बरी, एक को गैर इरादतन हत्या में सजा

इसी बात से बौखलाकर दिनेश शुक्रवार को दोपहर लगभग 2.30 बजे एक केन में दो लीटर डीजल लेकर आया व उसने तहसील परिसर में कमरा नं 16 के सामने अपने ऊपर डीजल डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। जैसे ही तहसील प्रशासन के लोगों ने देखा कि दिनेश को पकड लिया। इसके बाद पूंछने पर उसने बताया कि लेखपाल उसके खिलाफ झूंठी रिपोर्ट दर्ज करा रहा है इसलिए वह आत्महत्या करना चाह रहा है। प्रशासन ने दिनेश को अपनी हिरासत में ले लिया। इसके बाद लेखपाल आदित्य शर्मा को बुलाया गया। एसडीएम ज्योति शर्मा ने आत्महत्या का प्रयास करने वाले दिनेश को आगे से आत्महत्या का प्रयास नहीं करने की बता लिख कर देने पर रिहा कर दियां इस मामले में प्रश्न यह है कि जब दिनेश ने आत्महत्या का प्रयास किया तब उसे बिना किसी कारवाई के क्यों रिहा कर दिया। दिनेश जैसे लोग जब कारवाई का मौका आएगा तब इसी तरह से तहसील प्रशासन पर दबाव बनाऐंगे। यदि दिनेश की बात सही थी तो कौन जिम्मेदार है उसके खिलाफ कारवाई होनी चाहिए थी। किसी के खिलाफ कोई कारवाई ना होना बेहद ही चिंता जनक है। इस संबंध में एसडीएम बिसौली ज्योति शर्मा से बात करने का प्रयास किया गया लेकिन फोन नहीं उठ पाने के कारण कोई बात नहीं हो पाई।

READ MORE ==बदायूं में दरोगाजी ने भैंस चोर और पीडित का कराया पचास हजार में समझौता

(Visited 730 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here