बिसौली में सेटिंग के बाद झोलाछाप अस्पताल फिर खुले

0
129
बिसौली में सेटिंग के बाद झोलाछाप अस्पताल फिर खुले

बिसौली में सेटिंग के बाद झोलाछाप अस्पताल फिर शुरू हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग या प्रशासनिक स्तर पर कोई कारवाई नहीं किए जाने से इनके हौसले बुलंद हैं। अमर भास्कर डाट काम की खबर छपने के बाद दो दिन के लिए यह अस्पताल बंद रहे थे।
यहां बता दें कि बिना किसी रजिस्ट्रेशन व बिना डाक्टरों के बदायूं जनपद के बिसौली इलाके में यह झोलाछाप अस्पताल कुकुरमुत्तों की तरह खूब फल फूल रहे हैं। इन अस्पतालों में सभी प्रकार की बीमारियों के इलाज का दावा तो लिखा होता है लेकिन इन अस्पतालों का असली काम महिलाओं की डिलीवरी कराना होता है। इस काम के लिए यह अस्पताल स्वास्थ्य विभाग में तैनात आशाओं का प्रयोग करते हैं। इन अस्पतालों ने इस काम के लिए अपने कर्मचारी तैनात किए हुए हैं। यह कर्मचारी इन आशाओं से मिलते हैं व बताते हैं कि अगर अगर गर्भवती महिला को हमारे अस्पताल में डिलीवरी को भेजा जाता है तब आशा को आर्थिक लाभ होगा।

READ MORE ==दूल्हे के सामने दुल्हन ने प्रेमी के गले में जयमाला डाली, हडकंप

यह झोलाछाप अस्पताल गर्भवती महिला की डिलीवरी कराने के नाम पर मोटी रकम ऐंठते हैं। इस रकम का ही कुछ हिस्सा आशा को दिया जाता है। बीते साल सीएचसी बिसौली के प्रभारी अधीक्षक ने एक अस्पताल में छापा मारकर दो आशाओं को गर्भवती महिला के साथ पकडा था। यह आशाऐं एक गर्भवती महिला को लेकर इस अस्पताल पहुंची थीं। इन आशाओं के साथ क्या कारवाई हुई किसी को पता नहीं चला। पूरे इलाके में यह अस्पताल लगातार फल फूल रहे हैं। यहां बता दें कि दबतोरी, लक्ष्मीपुर, आसफपुर आदि इलाकों में यह अस्पताल बने हुए हैं। सबसे बडी बात बिना किसी सर्जन डाक्टर के इन अस्पतालों में आपरेशन भी किए जाते हैं। एक अस्पताल में बिना डाक्टर के आपरेशन कर देने के कारण एक व्यक्ति की मौत तक हो गई थी। जिसमें मुकदमा तक दर्ज हुआ था। इस मामले में अमरभास्कर डाट काम ने एक खबर प्रकाशित की थी जिसके बाद इन झोलाछाप अस्पतालों में हडकंप मच गया था। दो दिन तक कई अस्पताल बंद रहे थे। सूत्र बताते हैं कि सेटिंग के बाद पूरे कांफिडेंस के साथ यह झोलाछाप अस्पताल दोबारा से बिना खौफ के खोल दिए गए हैं। बिसौली में सेटिंग के बाद दोबारा से अस्पतालों के खुलने की चर्चा पूरे नगर में हो रही है। इस संबंध में नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी नवनीत कुमार ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने कितने अस्पतालों को पंजीकृत किया गया है। इसकी जानकारी मांगने के बाद भी आज तक नहीं दी गई है।

READ MORE ==बिसौली में खेत की रखवाली कर रहे युवक को गोली मारी

(Visited 196 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here