अखिलेश शिवपाल के समझौता मेें बहू डिंपल गवाह

0
241
अखिलेश शिवपाल के समझौता

अखिलेश शिवपाल में समझौता हो गया है अब दोनों साथ रहेंगे। यह समझौता डिंपल यादव की मौजूदगी में हुआ है। शिवपाल यादव ने डिंपल को गवाह बनाया है। जब शिवपाल यादव ने इस बात का खुलासा किया तब यह बाद पूरे प्रदेश में फैल गई है।
यहां बता दें कि मैनपुरी उप चुनाव में समाजवादी पार्टी प्रत्याशी डिंपल यादव के चुनाव की कमान इस समय शिवपाल यादव संभाल रहे हैं जबकि शिवपाल यादव व सपा में आपसी तालमेल बिल्कुल भी अच्छा नहीं था। जब भाजपा ने सपा उम्मीदवार डिंपल यादव को घेरने की कोशिश की तब डिंपल यादव ने शिवपाल यादव को फोन कर मदद करने को कहा था। इसके बाद प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के मध्य समझौता हुआ था। इसकी खबरें भी मीडिया में आईं थीं। यहां बता दें कि यह उपचुनाव सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद खाली हुई है। वर्ष 2015 से ही अखिलेश यादव व शिवपाल यादव में आपसी तालमेल बिगडने की खबरें आईं थीं

READ MORE ==बदायूं में चूहे की हत्या के आरोप में एक गिरफ्तार

इसके बाद शिवपाल यादव ने अपनी नई पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का गठन कर लिया था। हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में भी अखिलेश व शिवपाल में समझौता हुआ था। लेकिन यह समझौता ज्यादा समय तक टिक नहीं पाया था। लेकिन मुलायम सिंह यादव के निधन के समय पूरा परिवार एक दिखाई दिया था। जब उनके निधन के बाद मैनपुरी सीट को रिक्त घोषित किया गया था। तब अखिलेश यादव ने अपनी पत्नी डिंपल यादव को सपा प्रत्याशी घोषित किया था। इसके बाद दोनों में समझौता हुआ था। इस बारे में खुलासा करते हुए शिवपाल यादव ने कहा था कि बहू डिंपल ने चुनाव में भाग लेने के लिए कहा था। इसके बाद अखिलेश शिवपाल के समझौता में डिंपल गवाह बनीं और समझौता हो गया। तब हमने कहा था कि अब एक ही रहेंगे बस बहू तुम गवाह रहना अखिलेश कुछ गडबड करें तो तुम गवाह बने रहना। इस बात पर जोर देते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि अब एक ही रहेंगे।

READ MORE ==बदायूं पुलिस चौकी के निकट बार बालाओं के ठुमके, उडे नोट

(Visited 309 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here