नूपुर शर्मा की नई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाई

0
187

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता व पैगम्बर मोहम्मद साहब पर टिप्पणी कर विवादों में आईं नूपुर शर्मा ने सुप्रीम कोर्ट में नई याचिका दाखिल की है जिस पर आज मंगलवार को सुनवाई होगी। इस मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति सूर्यकांत एवं न्यायमूर्ति परदीवाला करेंगे।
यहां बता दें कि बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने 1 जुलाई को अपनी सभी एफआईआर को एक जगह स्थानांतरित करने की मांग की थी। उस समय सुप्रीम कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई के बजाए सख्त टिप्पणी कर याचिका सुनने से मना कर दिया था। इस बार नूपुर शर्मा के अधिवक्ता ने नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी पर रोक लगाने व अपने खिलाफ दर्ज सभी एफआईआर को एक जगह ट्रांसफर करने की मांग की है। इस मामले की आज मंगलवार को सुनवाई होगी। इस मामले की सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट ने न्यायमूर्ति सूर्यकांत व न्यायमूर्ति परदीवाला की बेंच बनाई गई है। इस मामले की सुनवाई दोपहर बाद होने की संभावना है। इससे पहले हुई सुनवाई में इन्हीं न्यायमूर्तिगण ने नूपुर शर्मा पर सख्त टिप्पणी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि देश के बिगडे हालात के लिए नूपुर शर्मा ही जिम्मेदार हैं।

READ MORE ===बिलारी: एसडीएम से सामान के पैसे मांगेे तो चलवा दिया बुलडोजर

इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि उदयपुर राजस्थान की घटना के लिए भी नूपुर शर्मा ही जिम्मेदार हैं। न्यायमूर्तिगण का कहना था कि आपके कारण ही देश की स्थिति बिगडी है आप नेशनल टेलीविजन पर जाकर माफी मांगें। हालांकि अभी तक नूपुर शर्मा ने नेशनल टेलीविजन पर माफी नहीं मांगी है। सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी की पूरे देश में आलोचना भी हुई थी। आलोचकों का कहना था कि जो टिप्पणी मुहंु से बोली गई थी वह लिखी नहीं गई। अब इस नई याचिका में नूपुर शर्मा ने दिल्ली, महाराष्ट्र, कर्नाटक, जम्मू काश्मीर व असम प्रदेशों को पक्षकार बनाया गया है। वैसे सामान्यतया ऐसे मामलों में जब कई प्रदेशों में एफआईआर दर्ज होती हैं तब सुप्रीम कोर्ट मामले को एक जगह एकत्र कर देता है। आज याचिका की सुनवाई पर पूरे देश की निगाह टिकी हुई है कि सुप्रीम कोर्ट नूपुर शर्मा को कोई राहत देता है या फिर कोई और टिप्पणी करता है।

READ MORE ===थाना फैजगंज बेहटा के मुंडिया धुरेकी में दो समुदायों में मारपीट, कांवड यात्रा नहीं निकालने की धमकी

(Visited 108 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here