प्रेमिका को आरी से काटा, 35 टुकडे कर फ्रिज में डाले

0
247
प्रेमिका को आरी से काटा, 35 टुकडे कर फ्रिज

प्रेमिका को आरी से काटा और उसके 35 टुकडे का फ्रिज में डाल लिए इसके बाद हर रोज एक एक कर टुकडों को ठिकाने लगा रहा था। बदबू से बचने को अगरबत्ती जलाता था व इत्र का छिडकाव भी करता था।
यहां बता दें कि 26 साल की श्रद्धा मुम्बई के मलाड की रहने वाली थी। वह वहां पर एक काल सेंटर में काम करती थी। वह नौकरी कर ही रही थी कि अचानक ही उसकी मुलाकात आफताब अमीन से हुई। आफताब एक फूड ब्लागर था। दोनों की मुलाकातें शुरू हो गईं। यह मुलाकातें कब प्यार में बदल गईं दोनों को पता ही नहीं लगा। जब दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे तब यह बात परिवार वालों को भी पता लग गया। अलग अलग धर्म होने के कारण परिवार वालों ने उन दोनों के प्यार को स्वीकार नहीं किया तब आफताब व श्रद्धा ने दिल्ली भागने का निर्णय किया। जब दोनों लोग दिल्ली भाग आए तब दोनों ही लिव इन रिलेशन में रहने लगे। लेकिन आफताब के अन्य लडकियों के साथ भी संबंध थे इसका शक होने के कारण श्रद्धा लगातार आफताब पर शादी का दबाव बनाने लगी।

READ MORE ==पहले रेप फिर ब्लेकमेलिंग, फोटो वायरल कर शादी तुडवाई, पीडिता ने योगी से मांगा इंसाफ

लेकिन आफताब शादी नहीं करना चाहता था। इस कारण से दोनों के बीच अक्सर लडाई रहने लगी। बीती 18 मई को भी दोनों में इसी बात को लेकर झगडा हुआ। इसी झगडे की वहज से आफताब ने श्रद्धा की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने लाश को ठिकाने लगाने का निर्णय लिया। इसके तहत आफताब ने एक आरी से प्रेमिका को आरी से काटा व उसके 35 टुकडे कर दिए। इन टुकडों को सुरक्षित रखने के लिए वह एक फ्रिज खरीदकर लाया। इस फ्रिज में उसने श्रद्धा की लाश के टुकडों को रखा। इसके बाद प्रत्येक दिन आफताब एक टुकडे को ठिकाने लगाता था। जब कई दिनों तक श्रद्धा का फोन नहीं उठा एवं सोशल मीडिया पर भी कोई स्टेटस नहीं आया तब श्रद्धा के पिता दिल्ली आ गए। जहां पहुंचकर उन्होंने महरोली पुलिस से आफताब की शिकायत की। पुलिस ने शनिवार को आफताब को हिरासत में लेकर पूंछतांछ की तब आफताब ने पूरी कहानी सुनाई। पुलिस ने वह आरी जिससे श्रद्धा को काटा गया था व वह फ्रिज जिसमें टुकडे रखे गए थे बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने जंगल से श्रद्धा की हड्डियां भी बरामद की हैं। आफताब ने यह भी बताया कि टीवी पर आने वाले क्राइम शो देखकर हत्या करने व लाश को ठिकाने लगाने की विधि सीखी थी। गूगल से खून साफ करने व बदबू ना आने की विधि भी सीखी थी।

READ MORE ==बदायूं में लूट के माल के बंटवारे को लेकर खूनी जंग, दस घायल

(Visited 670 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here