अल्प संख्यक मंत्री नवाब मलिक गिरफ्तार, ईडी की कार्रवाई

0
256
Nabav Malik Photo ---------Social Media

महाराष्ट्र सरकार में अल्पसंख्यक मंत्री नबाव मलिक को प्रर्वतन निदेशालय ने उनके अंडरवर्ल्ड कनेक्शन का लेकर गिरफ्तार किया है। इसके बाद प्रर्वतन निदेशालय ने उनसे लगातार छह घंटों तक पूंछतांछ की है। पूंछतांछ के बाद ईडी ने मलिक को गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई थी। गिरफ्तारी के बाद ईडी ने मलिक को अदालत में पेश किया जहां से बहस के बाद अभी तक अदालत का फैसला सुरक्षित है।

Nabav Malik Photo ———Social Media

यहंा बता दें कि बुद्धवार को सुबह सात बजे ईडी ने नबाव मलिक के घर पर छापा मारा था। इस समय मलिक अपने घर पर थे। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने नबाव मलिक से उनके घर पर ही लगभग एक घंटे पूंछतांछ की बाद में वह अपने साथ ले गई। बाद में नवाब मलिक को प्रर्वतन निदेशालय के कार्यालय में लगभग छह घंटे तक पूंछ तांछ की गई।
सूत्रों की मानें तो प्रर्वतन निदेशालय ने यह कार्रवाई अंडरवर्ल्ड डान दाउद इब्राहिम से जुड़ी एक संपत्ति मामले में की है। जिसमें उनका नाम सामने आया है। ईडी एक सप्ताह से मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर के आवास पर छापा मारा था। ईडी ने नागपाड़ा में हसीना पारकर से जुड़े 10 ठिकानों पर भी छापेमारी की कारवाई की थी। प्रवर्तन निदेशालय ने दाउद के भतीजे और पारकर के बेटे अलीशाह पारकर के साथ ही छोटा शकील के एक साथ सलीम कुरैशी से भी पूंछतांछ की है।
इससे पहले महाराष्ट्र सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फणनवीस ने नबाव मलिक पर आरोप लगाया था कि मुंबई में दाऊद के करीबियों से जमीन खरीदी है। इनमें से एक मुंबई बम धमाकों में भी शामिल रहा है।
फडणवीस का आरोप था कि सलीम पटेल के पावर ऑफ अटॉर्नी वाली कुर्ला में तीन एकड़ जमीन नबाव मलिक की कंपनी सॉलिडस को बेची गई थी। यह जमीन 2003 में खरीदी गई थी उस समय भी नवाब मलिक मंत्री थे। 2019 में उन्होंने कंपनी से इस्तीफा दे दिया था। फडणवीस का आरोप है कि नवाब मलिक और उनके रिश्तेदारों की पांच ऐसी प्रॉपर्टी हैं, जिनमें से चार का संबंध अंडरवर्ल्ड से है।
शिवसेना की भाजपा को चेतावनी
शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने नबाव मलिक की गिरफ्तारी पर भाजपा को चेतावनी देते हुए कहा है। नवाब मलिक एक वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री हैं। ईडी ने जिस तरह से मलिक को उनके घर से ले गइ्र है। वह गलत है। महाराष्ट्र सरकार के मंत्री को इस तरह से ले जाना उचित नहीं है। एक मंत्री को ईडी उसके घर से ले गई, वह महाराष्ट्र सरकार के लिए एक चुनौती है। इस बात का ध्यान रहे 2024 के बाद आपकी भी जांच होगी।
अखिलेश यादव का बयान
महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नबाव मलिक की गिरफ्तारी पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि केंद्रीय ऐजेंसियां लोगों को अपमानित कर रही हैं। वह झूंठे मुकदमों में फसाती है। लोगों को जेल भेजती हैं। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने एक बार कहा था कि उनको खतरा है कि विधानसभा में आतंकवादी हमला हो सकता है। जिस पुुड़िया को लेकर भाजपा परेशान थी उसमें लकडी का घिसा हुआ बुरादा निकला। यह भाजपा के लोग कुछ भी कर सकते हैं।

(Visited 162 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here