डग्गामार बसों में सवारियों को लेकर दो गुटों में तलवारें निकलीं

0
192
डग्गामार बस

थाना से मात्र 50 मीटर की दूरी पर दो डग्गामार बसों के संचालकों में सवारियां बिठाने को लेकर सडक पर जमकर मारपीट हुई। दोनों गुटों ने तलवारें भी निकाल लीं बाद में मामला शांत हो गया नही ंतो बडा हादसा हो सकता था। घटना का किसी ने वीडियो बना कर वायरल भी कर दिया है।
यहां बता दें कि यूपी के बरेली से कई डग्गामार बसें हिमाचल प्रदेश के वद्दी शहर को जाती हैं जिन बसों में बरेली से लेकर चंदौसी तक के अधिकांश मजदूर इन बसों में बैठकर हिमाचल प्रदेश के शहरों को मजदूरी के लिए आते जाते हैं। शुक्रवार को भी सवारियां लेकर दो बसें बरेली से चलीं जिनमें सवारियों को बिठाने को लेकर आपस में कंप्टीशन हो गया। जब यह दोनों बसें कस्बा फैजगंजबेहटा पहुंचीं तब दों बसों के संचालकों ने एक दूसरे का रास्ता रोक लिया, व बसों से उतर आए शाम लगभग पांच बजे थाना फैजगंजबेहटा से मात्र 50 मीटर की दूरी पर दोनों बसों के संचालकों में मारपीट शुरू हो गई। दोनों एक दूसरे पर सवारियों को बिठाने का अरोप लगा रहे थे।

READ MORE —बिसौली: सरकारी जमीन नापने गए लेखपाल की कनपटी पर रखा तमंचा

मारपीट इतनी बढ गई कि दोनों गुटों ने तलवारें भी निकाल लीं। चूंकि दोनों गुट सरदार हैं इसलिए उनके पास पहले से ही तलवारें मौजूद थीं और दोनों गुटों ने एक दूसरे को तलवारों से काटने की धमकी दी। इससे दोनों गुट डर गए व आपस में किसी तरह से मारपीट बंद हो गई अन्यथा बडी घटना हो सकती थी। यहां सूत्रों का कहना है कि थाना पुलिस को मामले का संज्ञान था लेकिन थाना पुलिस ने कोई कारवाई नहीं की। यहां सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि डग्गामार बसें बिना किसी परमिट के बेरोकटोक दौड रहीं हैं और कोई भी इनको रोकने वाला नहीं है। यह बात बेहद ही चिंता जनक है। इस घटना के समय किसी ने वीडियो भी बना लिया और वायरल कर दिया, जिसमें तलवारें निकली हुईं स्पष्ट दिखाई दे रही हैं। लेकिन पुलिस ने अभी तक घटना की बावत कोई कारवाई नहीं की है।

READ MORE —बिसौली सपा विधायक के खिलाफ पुलिस ने आरोप पत्र किया दाखिल

(Visited 181 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here