पुतिन मोदी की बात, भारतीयों को सुरक्षित निकलने के लिए रूस खारकीव में 6 घंटे युद्ध रोकेगा

0
352

भारतीयों को निकलने के लिए रास्ता देने के लिए रूस छह घंटे को युद्ध रोकने को राजी हो गया है। यहां भारत की चिंता है कि खारकीव मे काफी संख्या में भारतीय छात्र फंसे हुए हैं। जिनको निकालना भारत की प्राथमिकता हैं। इसीलिए भारत के प्रधानमत्री ने रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन से बात की है। यहं छूट इसलिए है ताकि भारतीय छात्र आसानी से बार्डर पार कर सकें।
यहां बता दें कि रूस ने आरोप लगाया था कि यूक्रेन सेना के लोग भारतीय छात्रों को मानव ढाल बना रहे हैं। इसी के लिए रूस यह छूट देने को सहमत हुआ है। रूस की छह घंटे की छूट भारतीय छात्रों को निकलने के लिए लगभग पर्याप्त है।
पीएम मोदी ने दोबारा की है पुतिन से बात,
ज्ञात रहे कि बुधवार रात भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से भारतीयों के यूक्रेन में फंसे होने का मुद्दा उठाया है। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि भारतीय छात्र सुरक्षित भारत वापस पहुंचें। इस पर रूसी राष्ट्रपति ने भारतीय छात्रों को निकालने के लिए हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि हम छह घंटे तक भारतीय छात्रों को निकलने के लिए छह घंटे तक युद्ध रोक देंगे।
दोनों नेताओं की इस बातचीत के दौरान पुतिन ने मोदी को भरोसा दिलाया कि उन्होंने भारतीय छात्रों को सुरक्षित वार जोन से निकालने के लिए व सुरक्षित भारत भेजने के लिए जरूरी दिशा निर्देश अपने अधिकारियों को जारी किए जा चुके हैं। रूस की सेना इस दिशा में हरसंभव प्रयास करेगी। उन्होंने भारतीय छात्रों के फौरन रेस्क्यू के लिए रूसी सेना द्वारा खारकीव से रूस तक एक सुरक्षित कॉरिडोर बनाने की भी बात कही थी। इसके अगले दिन ही रूस 6 घंटे तक युद्ध रोकने के लिए तैयार हो गया है।
खारकीव यूनीवर्सिटी के छात्र अब भी फंसे हैं
यहंा बता दें कि भारत वैसे बडी संख्या में अपने छात्रों को बाहर निकाल चुका है लेकिन खारकीव यूनीवर्सिटी के छात्र अभी भी फंसे हुए हैं। यहंा की सूचना यह है कि यहां के छात्रों को निकलने नहीं दिया जा रहा है।

(Visited 97 times, 1 visits today)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here